रायबरेली: चारागाह की भूमि पर अवैध कब्जे के खिलाफ ग्रामीण हुए लामबंद, कांग्रेस पार्टी के प्रदेश महासचिव सुशील पासी ने कहा चुनाव नजदीक होने के कारण छवि को धूमिल करने के लिए राजनीतिक लोग रच रहे षड्यंत्र

रायबरेली: चारागाह की भूमि पर अवैध कब्जे के खिलाफ ग्रामीण हुए लामबंद, कांग्रेस पार्टी के प्रदेश महासचिव सुशील पासी ने कहा चुनाव नजदीक होने के कारण छवि को धूमिल करने के लिए राजनीतिक लोग रच रहे षड्यंत्र

ब्यूरो रिपोर्ट: राजन प्रजापति

रायबरेली: चारागाह की भूमि पर अवैध कब्जे के खिलाफ ग्रामीण हुए लामबंद, कांग्रेस पार्टी के प्रदेश महासचिव सुशील पासी ने कहा चुनाव नजदीक होने के कारण छवि को धूमिल करने के लिए राजनीतिक लोग रच रहे षड्यंत्र 

रायबरेली महराजगंज।

योगी सरकार में चारागाह की सुरक्षित भूमि पर कब्जा करने का कई लोगों पर लगा गंभीर आरोप। हड़कंप तो उस समय मच गया जब इनमे से एक नाम सुशील कुमार का सामने आया जो राजनीतिक है।

योगी सरकार में भूमाफियाओं के हौसले इस कदर बुलंद हैं चारागाह की सुरक्षित भूमि को भी नहीं छोड़ रहे हैं। कब्जा कर निर्माण कार्य कराया जा रहा है और खेती भी की जा रही है। कई लोगों पर चारागाह की भूमि पर कब्जा करने का आरोप ग्रामीण लगा रहे है। शिकायत भी किया है और दर्जनों ग्रामीण अपनी आवाज बुलंद कर कार्यवाही की मांग भी किया है। शिकायतकर्ता शिव सुमिरन सिंह पुत्र शिवनाथ सिंह निवासी ग्राम सुजातगंज मजरे बावन बुजुर्ग बल्ला ने सम्पूर्ण समाधान दिवस व मुख्यमंत्री सहित अन्य जगह लिखित शिकायत कर सुरक्षित भूमि चारागाह पर कब्जा कर निर्माण कार्य कराया जा रहा है जिसकी गाटा संख्या 3950 सुरक्षित भूमि है। विपक्षी रामकेवल, गणेशी, रामप्रकाश, रामलाल, राधा पुत्रगण विश्राम उर्फ गुट्टू एवं सुशील कुमार व सुनील कुमार पुत्रगण सूर्यबली निवासी टाoएo महराजगंज द्वारा कब्जा करके उस पर धान की फसल तैयार की गई है एवं कुछ भूमि पर कोठरी एवं नल को लगाया गया है यह आरोप शिकायत कर लगाया गया है।

शिकायतकर्ता ने कहा चारागाह की भूमि पर कब्जा कर निर्माण कराया जा रहा है खेती भी की जा रही है। विपक्षीगण सरहंग एवं राजनीतिक पकड़ वाले व्यक्ति हैं जिसकी वजह से चारागाह की भूमि पर अवैध कब्जा कर लिया गया है। उच्चाधिकारियों से लगातार शिकायत की जा रही है लेकिन अभी तक कोई कार्यवाही नहीं हुई।

क्या कहते है जिम्मेदार अधिकारी?
उपजिलाधिकारी सविता यादव ने बताया संपूर्ण समाधान दिवस में शिकायती पत्र आया है, जांच कर विधिक कार्यवाही की जाएगी। 

 

क्या कहते हैं कांग्रेस के प्रदेश महासचिव?
कांग्रेस पार्टी के प्रदेश महासचिव सुशील पासी ने कहा चुनाव नजदीक होने के कारण छवि को धूमिल करने के लिए राजनीतिक लोग षड्यंत्र कर रहे हैं। चारागाह की एक इंच भूमि पर अवैध कब्जा होगा तो सजा भुगतने को तैयार है।

 

क्या कहते हैं ग्रामीण?
ग्रामीणों का आरोप है कई बार शिकायत की गई है लेकिन सिर्फ कार्यवाही के नाम पर खानापूर्ति की जा रही है। दर्जनों ग्रामीणों ने कहा चारागाह पर कब्जा कर खेती की जा रही है और बाउंड्री भी बनी हुई है।प्रशासनिक अधिकारियों को निष्पक्ष कार्यवाही करना चाहिए। किसने कहा पर कितना कब्जा किया हुआ है?राजनीतिक लोग हैं इसलिए कार्यवाही नहीं हो पा रही है। 

 

क्या कहते हैं ग्राम प्रधान प्रतिनिधि?
प्रतिनिधि पंकज गुप्ता बावन बुजुर्ग बल्ला का कहना है चारागाह की शिकायत उच्चाधिकारियों सहित मुख्यमंत्री पोर्टल पर की गई है।प्रशासन को पैमाइश व नपाई कर अवैध कब्जा करने वालों पर कार्यवाही करना चाहिए। जिसका भी कब्जा है वह चाहे राजनीतिक पार्टी से हो कोई भी हो प्रशासनिक अधिकारियों को निष्पक्ष कार्रवाई करना चाहिए।

शिकायतकर्ता शिव सुमिरन सिंह ने कहा सुशील कुमार राजनीतिक पार्टी से हैं कई पार्टी में रह चुके हैं लेकिन कभी इलेक्शन नहीं जीते हैं अबकी बार कांग्रेस में है इसलिए कार्यवाही नहीं हो रही है हम सब ग्रामीण चाहते हैं निष्पक्ष जांच पड़ताल कर कार्यवाही होनी चाहिए लेखपाल द्वारा गलत रिपोर्ट लगाई गई है।

सुशील पासी ने पूरे मामलें को राजनीतिक षडयंत्र बताया और कहा छवि खराब की जा रही है दूसरी तरफ ग्रामीण भी पूरी ताकत के साथ मैदान में आ चुके है। हकीकत क्या है किसने कितना कब्जा किया है जांच में सब साफ हो जायगा यह ग्रामीणों का कहना है।