सांसों पर संकट: ये 'लहर' नहीं 'सुनामी' है.. जानिए आखिर दिल्ली हाईकोर्ट ने क्यों कहा ऐसा

सांसों पर संकट: ये 'लहर' नहीं 'सुनामी' है.. जानिए आखिर दिल्ली हाईकोर्ट ने क्यों कहा ऐसा
दिल्ली उच्च न्यायालय ने मई के मध्य में कोविड-19 की दूसरी लहर की चरम स्थिति की आशंका से निपटने की तैयारियों के बारे में केंद्र से जानकारी तलब करते हुए मामलों में तेज बढ़ोतरी को 'सुनामी' बताया।